उत्तर प्रदेश और बिहार वालो को मार कर गुजरात से बाहर निकाला जा रहा / 2019 के चुनाव मे दिख सकता है इसका बडा असर

उत्तर प्रदेश/पटना. गुजरात के साबरकांठा में 14 महीने की बच्ची से दुष्कर्म के आरोप में बिहार के युवक की गिरफ्तारी के बाद गैर-गुजरातियों पर हमले की घटनाएं सामने आ रही हैं। 4 दिन में ऐसी 42 घटनाएं सामने आ चुकी हैं। अब तक 450 लोगों को गिरफ्तार किया गया और 56 एफआईआर दर्ज की गईं हैं। पांच हजार गैर-गुजराती, खासतौर से उत्तर प्रदेश और बिहार के लोग, राज्य से पलायन कर चुके हैं। उधर, उत्तर भारतीय विकास परिषद ने दावा किया है कि गुजरात से पलायन करने वालों की संख्या 50 हजार है।

gujrat news

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने लोगों से अपील की है कि वे पलायन ना करें। उन्होंने कहा कि हम लोगों को सुरक्षा दिलाएंगे। गुजरात के गृह मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने कहा- हम इन घटनाओं की निंदा करते हैं। पुलिस दिन-रात काम कर रही है। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी भी हालात पर नजर बनाए हुए हैं। गैर-गुजरातियों से हमारी अपील है कि गुजरात ना छोड़ें। उनकी सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। हम पर विश्वास करें।

नीतीश कुमार ने कहा कि घटनाओं के संबंध में मैंने गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी से बात की है। उनसे गुजरात में रह रहे बिहारियों को लेकर चिंता जताई है। गुजरात सरकार इस मामले को लेकर सतर्क है। मैं लोगों से अपील करता हूं कि एक राज्य के लोग दूसरे राज्य के लोगों के बारे में गलत विचार नहीं रखें। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने भी विजय रूपाणी से फोन पर बात की। योगी ने कहा कि रूपाणी ने गैर-गुजरातियों की सुरक्षा का भरोसा दिलाया है।

28 सितंबर को हुआ था बच्ची से दुष्कर्म

साबरकांठा के हिम्मतनगर इलाके में 28 सितंबर को बच्ची से रेप किया गया था। पीड़ित ठाकोर समुदाय से है। इस मामले में बिहार के एक मजदूर रवींद्र साहू को गिरफ्तार किया गया। वह यहां की एक फैक्ट्री में काम करता था।

Please follow and like us:
0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *