Aaj Bazar me bheed bahut hai , आज बाज़ार में भीड़ बहुत है। Motivation kavita

आज बाजार में भीड़

बहुत है सायद कोई आने वाला है , आज मई जो कविता आप के बिच ला रहा हूँ इसका मतलब यही ही की लोग भीड़ तभी लगाते है जब कोई आदमी जाता है यानी उसकी मृतव होती है या फिर जब किसी आदमी आता है , किसी आम आदमी के आने पर और जाने पर किसी को कोई फर्क नही पड़ता है|

आज बाज़ार में भीड़ बहुत है।
कोई आने वाला है शायद,,

दुकानों के शटर् आज बंद पड़े हैं।
दूध की गाड़ी दूर खड़ी है कहीं।
लोग किसी की बातें कर रहे हैं,
कोई आने वाला है शायद,,,

Hindi motivation thoughts , ज्ञान ज्ञान नहीं रह जाता जब

आज घर पर अख़बार नहीं आया।
बाज़ार में क्या चल रहा है, नहीं पता।
गाड़ीओं के पहिए आज थमे हुए हैं।
कोई आने वाला है शायद,, Motivational kavita

पूरी रात इसी सोच में निकल गयी।
सुबह खबर मिली, मौत हुई है किसी की।
कोई बहुत बड़ा आदमी था वो।
फिर मैं समझ गया,,

कल बाज़ार में भीड़ बहुत थी।
मगर कोई आने वाला नहीं था,,

Post Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *