Motivation Quotes, Romantic Quotes,

अफसोस : गाँव अब बदल गया है

अफसोस : गाँव अब बदल गया है

मुझे याद है मेरे घर के पास एक बड़ा सा नीम का पेड़ लगा हुआ था , जन्हा गर्मियों में आस-पास की सभी औरते और बच्चे बैठा करते थे | MY VILLAGE अफसोस करने वाली बात है न गाव अब बदल गए है GAVN गाँव पहले लोगो के पास समय था एक दुसरे के लिए गाँव के बड़े बैठकर घंटो बाते किया करते थे |आज मै आपको BADALATA GAVN दिखाऊंगा |

वो चिलचिलाती धूप में बरगद का छाँव याद आता है,
जब शहर में दम घुटता है तब मुझे मेरा गाँव याद आता है।

#GAVN

मुझे याद है मेरे घर के पास एक बड़ा सा नीम का पेड़ लगा हुआ था , जन्हा गर्मियों में आस-पास की सभी औरते और बच्चे बैठा करते थे | BADALATA GAVN बच्चे खेलते और औरते बैठे बाते करती थी| सावन के महीने में लड़किया उसमे छुला लगाती थी और पुरे महीने खूब झुलाती थी लड़किया ही नहीं वहा औरते और बच्चे बभी झुल्ला झुलाते थे | लेकिन अफसोस अब ओ नीम का पेड़ नहीं रहा उसका क्या हुआ ये मै आपको बाद में बताऊंगा |

एक ज़माना ओ भी था जब हम क्रिकेट खेलने 11 की जगह 33 जाया करते थे फिर किसे खिलाना है ये तय करना आज के विश्व कप से भी बड़ा फैसला था | “BADALATA GAVN ” लेकिन आज चार गाँव मिलाकर भी एक क्रिकेट टीम नहीं तयार होती है |

BADALATA GAVN
# VILLAGE

याद होगा आप को किसी का घर बनाने के लिए गाँव के तमाम लोग आ जाते थे , जब धान रोपना होता था तो इ दुसरे का मिलकर रोप लेते थे | तक गाँव कितना अच्छा था न लेकिन अब गाँव वेसा नहीं रहा ? # BADALATAGAVN

village quotes गाँव की कुछ मीठी यांदे जो आपको बहुत पसंद आयेगा।

आज गाँव में युआ नहीं दिखाते सब पैसा कमाने सहर चले गए जो बचे ओ अपने काम में व्यस्त है | किसी को किसी से मतलब नहीं , सायद यही देखा कर पेड़ो ने फल देना बंद कर दिया है पहले आप 5 रु. किलो था और मीठा थी लेकिन आज न मीठा है और न ही सस्ता |


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *