Motivational Quotes in hindi , शुख जाती है गर्मीयो मे

ये नदिया भी शुख जाती है गर्मीयो मे और फिर बर्सात मे भर जाती है । इसी तरह हमारा जीवन भी है .. ये नदी भी इंतजार करती है बारिष का तो क्या हम सही समय का इंतजार नही कर सकते | Share

दिल टुटने के बाद डिप्रेशन से निकलने का आसान तरिका । आगर आप किसी से प्यार करते है तो जरुर पडे आपके काम आ सकता है ,.,

दिल टूटने के बाद डिप्रेशन में जाना लाजिमी है. कई लोग इससे कुछ महीनों या साल में बाहर आ पाते हैं तो कई पूरी जिंदगी टूटे दिल को जोड़ते गुजार देते हैं. लेकिन क्या आपने कभी गौर किया है कि ब्रेकअप के भी कई फायदे हैं जो आप रिश्ते में रहते हुए कभी नहीं जान […]

बदलता भारत और लोगो का विचार “

बदलता हिन्दुस्तान  यह मेरा पहली पुस्तक है, यह पुस्तक मैने यह पुस्तक बदलते हिन्दुस्तान पर लिखने जा रहा हूँ, मैं सुरु कर रहा हूँ भारत में विभिन्नता में एकता से – एक समय था जब हमारा भारत विभिन्नता में एकता के लिए जाना जाता था, यह बात लगभग आज से 15 साल पहले की है […]

सोचने पर मजबुर हो जायेंगे कि आखिर क्यो हंसने लगा मेंघनाथ का कटा सर ?

आखिर क्यों हंसने लगा मेघनाद का कटा सिर
रावण के बेटे का नाम मेघनाद था। उसका एक नाम इंद्रजीत भी था। दोनों नाम उसकी बहादुरी के लिए दिए गए थे। दरअसल मेघनाद, इंद्र पर जीत हासिल करने के बाद इंद्रजीत कहलाया। और मेघनाद, का मेघनाद नाम मेघों की आड़ में युद्ध करने के कारण पड़ा। वह एक वीर राक्षस योद्धा था।

मेघनाद, श्रीराम और लक्ष्मण को मारना चाहता था। एक युद्ध के दौरान उसने सारे प्रयत्न किए लेकिन वह विफल रहा। इसी युद्ध में लक्ष्मण के घातक बाणों से मेघनाद मारा गया। लक्ष्मण जी ने मेघनाद का सिर उसके शरीर से अलग कर दिया।



उसका सिर श्रीराम के आगे रखा गया। उसे वानर और रीछ देखने लगे। तब श्रीराम ने कहा, ‘इसके सिर को संभाल कर रखो। दरअसल, श्रीराम मेघनाद की मृत्यु की सूचना मेघनाद की पत्नी सुलोचना को देना चाहते थे। उन्होंने मेघनाद की एक भुजा को, बाण के द्वारा मेघनाद के महल में पहुंचा दिया। वह भुजा जब मेघनाद की पत्नी सुलोचना ने देखी तो उसे विश्वास नहीं हुआ कि उसके पति की मृत्यु हो चुकी है। उसने भुजा से कहा अगर तुम वास्तव में मेघनाद की भुजा हो तो मेरी दुविधा को लिखकर दूर करो।

सुलोचना का इतना कहते ही भुजा हरकत करने लगी, तब एक सेविका ने उस भुजा को खड़िया लाकर हाथ में रख दी। उस कटे हुए हाथ ने आंगन में लक्ष्मण जी के प्रशंसा के शब्द लिख दिए। अब सुलोचना को विश्वास हो गया कि युद्ध में उसका पति मारा गया है। सुलोचना इस समाचार को सुनकर रोने लगीं। फिर वह रथ में बैठकर रावण से मिलने चल पड़ी। रावण को सुलोचना ने, मेघनाद का कटा हुआ हाथ दिखाया और अपने पति का सिर मांगा। सुलोचना रावण से बोली कि अब में एक पल भी जीवित नहीं रहना चाहती में पति के साथ ही सती होना चाहती हूं।

तब रावण ने कहा, ‘पुत्री चार घड़ी प्रतिक्षा करो में मेघनाद का सिर शत्रु के सिर के साथ लेकर आता हूं। लेकिन सुलोचना को रावण की बात पर विश्वास नहीं हुआ। तब सुलोचना मंदोदरी के पास गई। तब मंदोदरी ने कहा तुम राम के पास जाओ, वह बहुत दयालु हैं।’

सुलोचना जब राम के पास पहुंची तो उसका परिचय विभीषण ने करवाया। सुलोचना ने राम से कहा, ‘हे राम में आपकी शरण में आई हूं। मेरे पति का सिर मुझे लौटा दें ताकि में सती हो सकूं। राम सुलोचना की दशा देखकर दुखी हो गए। उन्होंने कहा कि मैं तुम्हारे पति को अभी जीवित कर देता हूं।’ इस बीच उसने अपनी आप-बीती भी सुनाई।

सुलोचना ने कहा कि, ‘मैं नहीं चाहती कि मेरे पति जीवित होकर संसार के कष्टों को भोगें। मेरे लिए सौभाग्य की बात है कि आपके दर्शन हो गए। मेरा जन्म सार्थक हो गया। अब जीवित रहने की कोई इच्छा नहीं।’

राम के कहने पर सुग्रीव मेघनाद का सिर ले आए। लेकिन उनके मन में यह आशंका थी कि कि मेघनाद के कटे हाथ ने लक्ष्मण का गुणगान कैसे किया। सुग्रीव से रहा नहीं गया और उन्होंने कहा में सुलोचना की बात को तभी सच मानूंगा जब यह नरमुंड हंसेगा।

सुलोचना के सतीत्व की यह बहुत बड़ी परीक्षा थी। उसने कटे हुए सिर से कहा, ‘हे स्वामी! ज्लदी हंसिए, वरना आपके हाथ ने जो लिखा है, उसे ये सब सत्य नहीं मानेंगे। इतना सुनते ही मेघनाद का कटा सिर जोर-जोर से हंसने लगा। इस तरह सुलोचना अपने पति की कटा हुए सिर लेकर चली गईं।’

Read more about सोचने पर मजबुर हो जायेंगे कि आखिर क्यो हंसने लगा मेंघनाथ का कटा सर ?

अडल्ट्री कानून: बदले बदले सरकार नजर आते हैं, घर की बर्बादी के आसार नजर आते हैं

एक पुरानी कहावत है- ‘देख पराई चूपड़ी मत ललचावे जी (जीव)’, मगर यहां बात रूखी-सूखी रोटी की नहीं बल्कि पत्नी की हो रही है, जिसे सर्वोच्च न्यायालय ने अपने ऐतिहासिक फैसले से पति परमेश्वर की गुलामी से निजात दिला दी है! जाने कब से अपनी अकल और दूसरे की ब्याहता सर्वश्रेष्ठ समझने वालों की कमी […]

Video : एक बार फिर इंसानियत हुई सर्मसार, बोरे में मिला महिला का शव

मामला उत्तर प्रदेश के ही किसी गांव से है जंहा एक महिला का शव गन्ने के खेत मे बोरे मे मिला , बडे ही बेदर्दी से महिला को मारने के बाद बोरे मे भर गन्ने के खेत मे छुपाया गया था , महिला जब घर नही लौटी तो घर वालो ने ढुंढना सुरुकिया फिर गांव […]

‘ठग्स ऑफ हिंदोस्तान’ का ट्रेलर लोगों को बहुत पसंद आया । फिल्म में आमिर खान एक नये लुक में नजर आए हैं

आमिर खान की बहुप्रतीक्षित फिल्म ‘ठग्स ऑफ हिंदोस्तान’ का ट्रेलर लोगों को बहुत पसंद आया है। इस फिल्म में आमिर खान पहली बार बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन के साथ स्क्रीन शेयर करते हुए दिखाई देंगे। इस फिल्म में आमिर खान एक ऐसे लुक में नजर आए हैं जिसे इससे पहले आपने कभी नहीं देखा […]

आपने बहुत से घरो का उद्यघाटन की पोटो देखे होंगे पर ऐसा उद्यघाटन आप पहले कभी नही देखा होगा ,

आपने बहुत से घरो का उद्यघाटन की पोटो देखे होंगे पर ऐसा उद्यघाटन आप पहले कभी नही देखा होगा , गजब सब तो घर का उद्द्घटन करते है पर ये देखिये यंहा पर स्वचालय का किया इस आदमी नेक्या आपने किया अपने स्वचालय का उद्घाटन ,स्वच्छ भारत अभियान यंहा से सुरु होता है , स्वच्छ […]

बस मोबाईल और सोशल मिडिया पर ही चल रहा है स्वच्छ भारत अभियान

ग्राम प्रधान और सफाई कर्मी की बड़ी लापरवाही । प्राथमिक व पूर्व माध्यमिक विद्यालय बर्दिया के तीन छोर की दीवार से सटा लगा कूड़े का अम्बार । कहने को तो स्वच्छ भारत का नारा सब लगा रहे है पर सफाई पर ध्यान देने वाला कोई नही है ,बस शोसल मिडिया पर ही स्वच्छ भारत अभियन […]

जंगली हाथी में जमकर मचाया उत्पात ।

जंगली हाथी में जमकर मचाया उत्पात । जंगली हाथी में जमकर मचाया उत्पात ।ग्रामीणों की कई बीघा धान की फसल को किया तहस नहस । निशांनगाड़ा रेंज के आजमगढ़ , रमपुरवा , जमुनिहा गाँव का मामला ।। लगातार पिछले दिनो से कतरनिया रेंज के आप पास के किसानो का फसल जंगली हाथियो द्वारा रौदा जा […]